मप्र के नौ जिलों में घर वापसी अभियान चलाएगा संगठन - मोहन भागवत 

मप्र के नौ जिलों में घर वापसी अभियान चलाएगा संगठन - मोहन भागवत 

भोपाल [ महामीडिया] विश्व हिंदू परिषद मप्र के नौ जिलों में घर वापसी अभियान चलाएगी। विहिप का नारा होगा शून्य प्रतिशत धर्मांतरण और शत प्रतिशत घर वापसी। राजस्थान के बांसवाड़ा में विहिप का यह प्रयोग काफी सफल रहा है। विहिप ने घर वापसी के लिए भोपाल, सीहोर, बैतूल, रायसेन, गुना, अशोक नगर, शिवपुरी, ग्वालियर और मुरैना की उन तहसीलों का चयन किया है जहां मुस्लिम आबादी ज्यादा है।इन लोगों के बीच जाकर विहिप उन्हें बताएगी कि तीन-चार पीढ़ी पहले उनके पूर्वजों ने किसी वजह से धर्म परिवर्तन कर लिया था। लेकिन मूल रूप से तो वे हिंदू ही हैं। उन्हें धीरे-धीरे सामाजिक परंपराओं से जोड़ा जाएगा और उसके बाद घर वापसी होगी। आरजीपीवी परिसर में चल रहे विहिप के प्रांत संगठन मंत्रियों के वर्ग में देश भर में घर वापसी अभियान चलाने की रणनीति को अंतिम रूप दिया 2 अगस्त से चल रहा विहिप का शिविर 7 अगस्त तक चलेगा। संघ प्रमुख मोहन भागवत 2 अगस्त से 4 अगस्त तक शिविर में रहे। भागवत ने विहिप पदाधिकारियों से कहा कि अब विहिप को धर्मांतरण रोकने और घर वापसी करने के साथ सामाजिक समरसता से जुड़े सेवाकार्य हाथ में लेना चाहिए।पूर्व सरकार्यवाह भैयाजी जोशी पहले दिन से विहिप के शिविर में हैं। वे 7 अगस्त तक रहेंगे। सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले भी पिछले दिनों भोपाल आए थे। उन्होंने विश्व संघ शिविर का शुभारंभ किया था। भागवत यहां से विश्व संघ शिक्षा वर्ग में पहुंच गए हैं। शनिवार को इसका समापन होगा।विहिप ने बच्चों को रामायण की शिक्षा देने हिंदी में सुबोध रामायण पुस्तक तैयार कराई है। विभिन्न स्कूलों में विहिप यह पुस्तक उपलब्ध कराएगी। जिन स्कूलों में शिक्षक इसे पढ़ाने में असमर्थ होंगे वहां विहिप के पदाधिकारी पढ़ाएंगे।

सम्बंधित ख़बरें